Do's and Don'ts in Bee Keeping

नमस्कार साथियों आइये जानते हैं के मधुमक्खी पालन में क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए

 क्या करें मधुमक्खी पालन के दौरान 

  1. जब आप मधुमक्खी और मधुमक्खी के झुंड को देखें तो घबराएं नहीं ।
  2. मधुमक्खी पालन स्थलों के लिए ठंडे परिवेश का चयन करें, अपनी मधुमक्खियों को सहारा और देखभाल प्रदान करें।
  3. मधुमक्खी कालोनियों को रखें जहां पानी, पराग और अमृत के प्रचुर स्रोत उपलब्ध हो ।
  4. मधुमक्खी बॉक्स (छत्ता) के निचले बोर्ड को नियमित रूप से साफ करें और कॉलोनी की स्वच्छता बनाए रखें ।
  5. रानी को सुपर चैंबर से बाहर रखने के लिए क्वीन एक्सक्लूडर का उपयोग करें ।
  6. गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए शहद सुपर चैंबर के सीलबंद कंघों से शहद निकालना चाहिए ।
  7. अपनी व्यक्तिगत स्वच्छता बनाए रखें और शहद संग्रह और मधुमक्खी पालन केंद्र का दौरा के दौरान उपकरणों को साफ रखें ।
  8. विकास अवधि के दौरान कॉलोनी को विभाजित करें जबकि कमजोर कॉलोनियों को एकजुट करें और भोजन कमी की अवधि के दौरान भोजन (चीनी खिलाना) प्रदान करें ।
  9. 1-2 साल बाद कॉलोनी को फिर से नयी रानी बनायें ।
  10. स्वार्मिंग के समय में अपने स्वार्म पकड़ने के सामानों को तैयार रखें ।
  11. विकास की अवधि के दौरान कालोनियों का बार-बार निरीक्षण करें ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि छत्तों में 2 फ्रेम और एक डमी बोर्ड जोड़कर कोई खाली जगह न रह जाए ।
  12. हमेशा अपने क्षेत्र के स्थानीय मधुमक्खी पालन संघों या अनुभवी मधुमक्खी पालकों के साथ नेटवर्क बनाएं ।
  13. जब आप एक कॉलोनी खो देते हैं, तो अगले सीजन में तुरंत मधुमक्खी की नई कॉलोनी बनाने का शीघ्र प्रयास करें ।
  14. रोगों को नियंत्रित करें और नियमित रूप से परजीवियों की तलाश करें, कॉलोनी में संक्रमण के मामले में अनुभवी मधुमक्खी पालकों की मदद लें ।
  15. किसी सम्बंधित विभाग जो की मधुमक्खी पालन प्रक्षिशण एवं सहयोग का कार्य करते हैं उनसे संपर्क बना के रखें

क्या ना करें मधुमक्खी पालन के दौरान  

  1. कभी भी एक कॉलोनी से शुरू न करें (दो से दस कॉलोनियां आदर्श होंगी)
  2. बिना सील किए हुए छत्तों /ब्रूड कक्षों से शहद की कटाई न करें
  3. चीनी के पानी को बार-बार न खिलाएं और मधुमक्खियों को प्लास्टिक के कंटेनरों में न खिलाएं (हमेशा पर्यावरण के अनुकूल बर्तन जैसे नारियल का खोल, मिट्टी या पत्ती का उपयोग करें)
  4. अपनी मधुमक्खी कॉलोनियों को सड़क के किनारे लगाने से बचें क्योंकि यह शहद को दूषित करता है और मधुमक्खियों के लिए उपद्रव पैदा करता है
  5. यदि आप एक कॉलोनी खो देते हैं तो मधुमक्खी पालन बंद न करें।
  6. शहद न टपकाएं या छत्ते के पास शहद की छत्ते न फेंके, यह शिकारियों को छत्तों को लूटने या हमला करने के लिए आकर्षित कर सकता है।
  7. मधुमक्खी पालन करने वाले अकेले न रहें क्योंकि मधुमक्खी पालन एक सामूहिक गतिविधि है।
  8. शहद से भरे हुए छत्तों को स्थानांतरित न करें क्योंकि यह आपके छत्तों और कॉलोनियों को नुकसान पहुंचाता है।
  9. छत्ते में प्लास्टिक की शीट का प्रयोग न करें (छत्ते बनाने के लिए मधुमक्खी के मोम की शीट का प्रयोग करें)
  10. नीचे के बोर्ड को ब्रूड चैंबर के साथ (कील) से फिक्स ना करें।
  11. मधुमक्खियों के डिब्बों को ज्यादा समय तक खुला ना रखें इससे रोब्बिंग का ख़तरा बढ़ जाता है ।
  12. बिना किसी विशेषज्ञ की सलाह के कोई भी दवा का प्रयोग ना करें ।
  13. मधुमक्खी की कोलोनिओं को बिना स्टैंड के कभी ना रखें, टॉप कवर जरूर लगाएं और गर्मियों में छाँव में और सर्दियों में धुप में रखें ।


 Buy Bee Keeping equipments and tools

Post a Comment

0 Comments